देवरिया

देवरिया डीएम की अध्यक्षता में तहसील बरहज में सम्पूर्ण समाधान दिवस का किया गया आयोजन सरकारी भूमि पर अवैध कब्जे की अनदेखी करने वाले लेखपाल को प्रतिकूल प्रविष्टि

कुल 26 प्रकरण आये, 4 का हुआ मौके पर निस्तारण

*डीएम की अध्यक्षता में तहसील बरहज में सम्पूर्ण समाधान दिवस का किया गया आयोजन सरकारी भूमि पर अवैध कब्जे की अनदेखी करने वाले लेखपाल को प्रतिकूल प्रविष्टि*

*कुल 26 प्रकरण आये, 4 का हुआ मौके पर निस्तारण*

*समस्याओं के निस्तारण में लापरवाही बरतने पर होगी कठोर कार्रवाई-डीएम*

हेमन्त कुशवाहा / बेनकाब भ्रष्टाचार

*देवरिया*  जिलाधिकारी अखंड प्रताप सिंह की अध्यक्षता एवं पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा की उपस्थिति में आज बरहज तहसील में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन हुआ। संपूर्ण समाधान दिवस के दौरान जिलाधिकारी ने सख्त तेवर अख्तियार करते हुए सरकारी भूमि पर अवैध कब्जे की अनदेखी करने वाले लेखपाल को तहसील दिवस के दौरान ही प्रतिकूल प्रविष्टि का आदेश थमा दिया। साथ ही उन्होंने समस्त लेखपालों को सरकारी भूमि पर अवैध कब्जे की अनदेखी करने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी भी दी।विशुनपुरा ग्राम निवासी रामप्रवेश ने जिलाधिकारी से शिकायत की कि गांव के दबंग चकरोड और खलिहान की भूमि पर अवैध कब्जा कर जोत-बो रहे हैं। इस संबन्ध में गत तहसील दिवस में शिकायत की गई थी, लेकिन मौके पर गए लेखपाल रामप्रवेश मधुकर ने अपेक्षित कार्रवाई नहीं की। जिलाधिकारी ने प्रकरण का संज्ञान लेते हुए संपूर्ण समाधान दिवस के दौरान ही लेखपाल रामप्रवेश मधुकर को प्रतिकूल प्रविष्टि का आदेश पत्र दिया। साथ ही एसडीएम को मौके पर जाकर सार्वजनिक भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराने का निर्देश दिया।जिलाधिकारी ने कहा कि संपूर्ण समाधान दिवस पर आने वाली अधिकांश शिकायतें राजस्व विभाग से संबंधित होती है। यदि कोई लेखपाल किसी प्रकरण के निस्तारण के संबन्ध में सतही एवं भविष्यवाचक आख्या देगा तो उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। भूमि पैमाइश से जुड़े प्रकरणों का प्राथमिकता के आधार पर शासन की मंशानुरूप निस्तारण किया जाए। यदि कोई राजस्वकर्मी किसी विवाद के लिए समाधान करने मौके पर गया है तो समाधान दिखना चाहिए। प्रकरण को बेवजह उलझाने वाले कार्मिकों को चिन्हित किया जाएगा।जिलाधिकारी ने कहा कि लेखपाल अपने हलके में नियमित रूप से भ्रमणशील रहें। भूमि विवादों का समाधान कराएं। खलिहान की भूमि, चकरोड अथवा नाला सहित सार्वजनिक भूमि पर किसी भी तरह के अतिक्रमण को हटवाए तथा उसकी सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को दें। उन्होंने कहा कि संपूर्ण समाधान दिवस में आने वाली अधिकांश शिकायतें पैमाइश, पारिवारिक संपत्ति विवाद, खलिहान की भूमि पर अवैध कब्जे से जुड़ी होती है यदि लेखपाल अपने क्षेत्र में सक्रिय रहेंगे तो शिकायतों की संख्या में भी कमी आएगी । उन्होंने कहा कि यदि किसी लेखपाल के द्वारा अपने दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही मिली तो सख्त कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रयास यह हो कि कोई भी फरियादी अपनी समस्याओं को लेकर कही न भटके।  उन्होंने कहा कि जिन शिकायतों का निस्तारण आज नहीं हो सका है उनका एक सप्ताह के अंदर शासन की मंशानुसार गुणवत्ता पूर्ण तरीके से निस्तारण हो जाना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि जो समस्याएं जिस स्तर की हैं उनका समाधान उसी स्तर पर सुनिश्चित किया जाए। पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने पुलिस विभाग से जुडे मामलों की सुनवायी की व पुलिस विभाग के अधिकारियों एवं थानाध्यक्षो को प्राप्त सभी सन्दर्भाे का निस्तारण प्राथमिकता के साथ सुनिश्चित कराये जाने का निर्देश दिया। तहसील बरहज में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में कुल 26 शिकायती प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए, जिनमें से 04 प्रार्थना पत्रों का निस्तारण  मौके पर किया गया। अवशेष 22 प्रार्थना पत्रों को संबंधित विभाग को समाधान के निर्देश के साथ सौंपा गया।

बेनकाब भ्रष्टाचार

Related Articles

Back to top button