Breaking Newsuatrpradeshलखनऊ

सद्भावना दिवस समारोह के रूप में मनायी गयी स्व. श्रीहर्ष पाण्डेय जी की 25 वीं पुण्यतिथि

ब्यूरो रिपोर्ट प्रतापगढ़

सद्भावना दिवस समारोह के रूप में मनायी गयी स्व. श्रीहर्ष पाण्डेय जी की 25 वीं पुण्यतिथि

ब्यूरो रिपोर्ट प्रतापगढ़

प्रतापगढ़ । प्रखर वक्ता, समाजसेवी, प्रबंधक व सरपंच स्व. श्रीहर्ष पाण्डेय जी के 25वें पुण्य-स्मृति-दिवस पर, अजीत नगर में सद्भावना दिवस समारोह का आयोजन किया गया । जिसमें स्व. पाण्डेय जी के व्यक्तित्व व कृतित्व पर चर्चा करने के साथ ही उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की गई । कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पीबीपीजी कॉलेज के प्राचार्य डॉ. बृजभानु सिंह, उद्घाटन अतिथि वरिष्ठ साहित्यकार दयाशंकर शुक्ल हेम, विशिष्ट अतिथि द्वय पूर्व एडीआईओएस डॉ. दयाराम मौर्य रत्न व डॉ. संगम लाल त्रिपाठी भंवर रहे । अति विशिष्ट अतिथि के रूप में डॉ. सोम प्रकाश पाण्डेय व इं चन्द्रकान्त त्रिपाठी चंद्र मौजूद रहे । इस दौरान विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली कुल 11 विभूतियों का सम्मान करने के साथ ही संस्थान की ओर से 100 असहाय व जरूरतमंदों को कम्बल भी बांटा गया । कार्यक्रम की अध्यक्षता विभिन्न शैक्षिक संस्थानों के प्रबन्धक अनिल प्रताप त्रिपाठी व संचालन डॉ. अमित पाण्डेय ने किया ।

श्रीहर्ष पाण्डेय समाजसेवा संस्थान के तत्वावधान में आयोजित इस सद्भावना दिवस समारोह की शुरुआत अतिथियों द्वारा माँ सरस्वती तथा स्व. श्रीहर्ष पाण्डेय जी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन व माल्यार्पण के साथ हुई । ततपश्चात वरिष्ठ कवयित्री मीरा तिवारी ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत कर वातावरण को भक्तिमय कर दिया । कार्यक्रम संयोजक डॉ. अनूप कुमार पाण्डेय व इं. अंकित त्रिपाठी ने मंचासीन अतिथियों को बैच लगाकर व माल्यार्पणकर स्वागत किया । उद्घाटन अतिथि ने कार्यक्रम को संबोधित कर औपचारिक रूप से कार्यक्रम की शुरुआत की ।

सद्भावना दिवस समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि डॉ. बृजभानु सिंह ने कहा कि व्यक्ति जन्म से नहीं बल्कि अपने कर्म से महान होता है । स्वर्गीय श्रीहर्ष पांडेय जी ने शिक्षा व समाज के लिए अपने पूरे जीवन को समर्पित किया । उनका सामाजिक योगदान अतुलनीय व अविस्मरणीय है, वे सर्व समाज के हितैषी थे । समाज के दबे कुचले वह असहाय लोगों के हितों के लिए वे सदैव लड़े । उन्हें कभी भी भुलाया नहीं जा सकता । युवा पीढ़ी के लिए वे सदैव प्रेरणाश्रोत रहेंगें । विशिष्ट अतिथि डॉ. दयाराम मौर्य रत्न ने अपने सम्बोधन में कहा कि स्व. श्रीहर्ष पाण्डेय जी ने विपरीत परिस्थितियों में भी सभी चुनौतियों का सफलतापूर्वक सामना किया । उनका व्यक्तित्व विशाल रहा, वे हमारे लिए सदैव अनुकरणीय रहेंगे । अतिविशिष्ट अतिथि डॉ. सोम प्रकाश पाण्डेय ने भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि पूर्वजों के याद करने के लिए ऐसे कार्यक्रम का आयोजन, आज की नई पीढ़ी के लिए प्रेरणादायी है । पूर्वजों का नमन हमारी संस्कृति रही है, पूर्वजों द्वारा दी गई शिक्षा से हमारा पथ-प्रदर्शन होता है । इसलिए पश्चिमी सभ्यता का अनुकरण ना कर, हमें अपने पूर्वजों को नमन करना चाहिए । प्रबंधक व सरपंच रहते हुए पंडित जी ने समाज के दबे कुचले लोगों के उत्थान के लिए बहुत कार्य किया है । गरीबों में कम्बल वितरण करके आयोजकों ने सराहनीय कार्य किया है, वे सदैव अविस्मरणीय रहेंगे । कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रबन्धक अनिल प्रताप त्रिपाठी ने स्व. पाण्डेय को कर्मयोगी बताया, और कहा कि वे सदैव हमारे लिए प्रेरणास्रोत बने रहेंगे ।

इस दौरान विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली 11 विभूतियों का सम्मान संयोजक डॉ. अनूप कुमार पाण्डेय व उपस्थित अतिथियों ने सम्मान पत्र, अंगवस्त्रम व स्मृति चिन्ह भेंटकर किया । सम्मानित होने वालों में पत्रकारिता के क्षेत्र से वरिष्ठ प्रेस छायाकार विनय पाठक, वरिष्ठ पत्रकार धर्मेन्द्र सिंह, साहित्य के क्षेत्र से सुनील प्रभाकर, दिनेश सिंह गुक्कज, हरिवंश शुक्ल शौर्य, मीरा त्रिपाठी व शिक्षा के क्षेत्र से डॉ. एसपी त्रिपाठी, डॉ. सोम प्रकाश पाण्डेय, डॉ. गौरव त्रिपाठी व विधि के क्षेत्र से वरिष्ठ अधिवक्ता राधेकृष्ण त्रिपाठी शामिल रहे । उपस्थित साहित्यकारों ने अपनी-अपनी रचनाओं के माध्यम से स्व. पाण्डेय को श्रद्धांजलि अर्पित की ।

कार्यक्रम को विजय प्रताप त्रिपाठी, बालगोविंद त्रिपाठी, चिंतामणि पाण्डेय, अरुण प्रताप त्रिपाठी, अनूप अनुपम, गजेन्द्र सिंह विकट, लक्ष्मी कांत मिश्र आदि ने सम्बोधित करते हुए स्व. श्रीहर्ष पाण्डेय के व्यक्तित्व व कृतित्व पर प्रकाश डाला और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की ।

इस दौरान मुख्य रूप से शिव प्रताप सिंह मुन्ना, मनोज त्रिपाठी, दिलीप शुक्ला, यमुना प्रसाद पाण्डेय, संजय शुक्ला, विमल कुमार शुक्ल, भगौती प्रसाद पाण्डेय, शतेन्द्र तिवारी, परमानन्द मिश्र, शिवेश शुक्ल, आनन्द मोहन ओझा, राहुल पाण्डेय, ज्ञानेश त्रिपाठी, गोपाल स्वरूप पाण्डेय, वीरेन्द्र मिश्रा, अभिषेक त्रिपाठी सहित पत्रकारिता, शिक्षा व समाजसेवा से जुड़े तमाम गणमान्य लोग मौजूद रहे । कार्यक्रम के अंत में प्रधानाचार्य डॉ. अमित पाण्डेय ने आए हुए सभी अतिथियों के प्रति आभार प्रकट किया ।

Related Articles

Back to top button
Benakab Bhrastachar