Big breakingBreaking Newsuatrpradeshउत्तर प्रदेशदेशबरेलीबहराइचराज्य

कृषि विश्वविद्यालय ने हर्षोल्लास पूर्वक मनाया नववर्ष

Samvaddata Nawab Singh

कृषि विश्वविद्यालय ने हर्षोल्लास पूर्वक मनाया नववर्ष

विश्वविद्यालय में कार्यरत समस्त कर्मचारियों एवं उनके परिवार को नए साल की हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं , आप सभी सुरक्षित एवं स्वस्थ रहें और नई ऊर्जा के साथ राष्ट्र के विकास के साझा लक्ष्यों को हासिल करने की दिशा में बढ़े-कुलपति, डॉ बिजेन्द्र सिंह।

आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज,अयोध्या के तत्वाधान में नववर्ष 2022 के आगमन पर विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ बिजेंद्र सिंह ने अपने आवास पर विश्वविद्यालय के अधिकारी, कर्मचारी, छात्र एवं श्रमिकों के साथ सभी को नव वर्ष की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आखिरकार साल 2021 अब अलविदा ले चुका है और एक नई सुबह के साथ 2022 का आगाज हो चुका है। लोगों में इस नए साल को लेकर काफी उत्साह है क्योंकि पिछले दो साल काफी दुखदाई और दर्दनाक गुजरा है। ऐसे में आपको नए साल की ढेर सारी शुभकामनाएं। यह वर्ष हमारे लिए अच्छा स्वास्थ्य, खुशियाॅ एवं समृद्धि लेकर आए तथा आशा और कल्याण की भावना प्रबल हो।
विश्वविद्यालय के मीडिया प्रभारी डॉ अखिलेश कुमार सिंह ने बताया कि इस अवसर पर विश्वविद्यालय के समस्त अधिकारी ,कर्मचारी, छात्र एवं श्रमिकों ने कुलपति महोदय को फूल ,माला, बुके आदि प्रदान कर नए वर्ष की शुभकामनाएं दी। कुलपति ने विगत वर्ष 2021 की उपलब्धियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी, जिसमें विशेष रूप से 101 दैनिक श्रमिकों का विनियमितीकरण, एन एस एस की स्थापना, विगत् वर्षों से इस वर्ष सबसे ज्यादा 68 छात्र जेआरएफ तथा 21 छात्रों का नेट क्वालीफाई करना, विश्वविद्यालय की रैंकिंग 16 पायदान ऊपर आकर 45 वां स्थान प्राप्त करना, लगभग 100 छात्रों का प्लेसमेंट, फसलों की 4 प्रजातियां एवं फल की 5 प्रजातियां का विकसित होना, 24 मत्स्य तालाबों का निर्माण, पूरे प्रदेश में सर्वप्रथम ऑनलाइन क्लासेज चलाकर परीक्षा का रिजल्ट घोषित करना- छात्रों को रोजगार दिलवाना और अप्रयोज्य भूमि को विकसित कर शोध क्षेत्र बनाना, कृषि विज्ञान केंद्रों का राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कार प्राप्त करना मुख्य है, जो की देश में ख्याति प्राप्त करने एवं अपनी पहचान बनाने में सफलता पाया है, जिसका समस्त श्रेय विश्वविद्यालय के श्रमिक एवं कर्मियों को जाता है,
भविष्य की परिकल्पना करते हुए कहा कि इस वर्ष हम विश्वविद्यालय को समृद्धि एवं आत्म निर्भरता की तरफ ले जाएंगे , छात्रों को नई शिक्षा नीति के अनुसार शिक्षा देकर स्वरोजगार की प्रति आकर्षित करेंगे।

Related Articles

Back to top button
Benakab Bhrastachar