हम लोगों के बीच नहीं रहे कामरेड एम कृष्णन ट्रेड यूनियन के आंदोलन के प्रतीक थे - Benakab Bhrastachar
गोरखपुर

हम लोगों के बीच नहीं रहे कामरेड एम कृष्णन ट्रेड यूनियन के आंदोलन के प्रतीक थे

हम लोगों के बीच नहीं रहे कामरेड एम कृष्णन ट्रेड यूनियन के आंदोलन के प्रतीक थे

हम लोगों के बीच नहीं रहे कामरेड एम कृष्णन ट्रेड यूनियन के आंदोलन के प्रतीक थे

बहुमुखी प्रतिभा के धनी कुशल संगठनकर्ता देश के सेन्ट्रल गवर्नमेंट कर्मचारी ट्रेड यूनियन के पुरोधा एन एफ पी ई के साथ साथ कनफेडरेशन के सेक्रेटरी जनरल रह चुके कामरेड एम कृष्णन हम लोगों के बीच नहीं रहे अद्वितीय व्यक्तित्व , विद्वान और कर्मचारी हितों के रक्षार्थ अपना सब कुछ न्यौछावर करने वाले पुरे देश में ट्रेड यूनियन के आंदोलन के प्रतीक थे उनके निधन के साथ ही आज देश में ट्रेड यूनियन के एक युग का अंत हो गया उनकी जगह की भरपाई नहीं कि जा सकती है।
कोविड के चलते एम कृष्णन कुछ दिनों से अस्वस्थ चल रहे थे
उन के इस असामयिक निधन पर
संजय राय मंडलीय मंत्री, जनार्दन सिंह सहायक प्रान्तिय मंन्त्री, अमित झा,विजय कुमार, मनेन्द्र तिवारी, आर यस चन्द,जे पी सिंह,अजय यादव, ऋषिकेश,राम सहाय,देव दत्त आदि ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त किया

हेमन्त कुशवाहा
गोरखपुर सह मंण्डल प्रभारी

Related Articles

Back to top button
Close