Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज

अयोध्या

लखनऊ।

रिपोर्ट द्वारा–प्रदीप गुप्त एडवोकेट एवं ब्यूरो चीफ फैजाबाद

विश्व हिंदू परिषद वीएचपी के अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय ने मोदी सरकार द्वारा राम मंदिर के निर्माण के लिए बनाए गए ट्रस्ट पर खुशी जाहिर की है। उन्होंने कहा जिन लोगों का नाम ट्रस्ट में शामिल किया गया है वह उत्कृष्ट लोग हैं और सभी वीएचपी के अंग है। कामेश्वर चौपाल ने राम मंदिर का शिलान्यास किया था और वे 1989 में बिहार से वीएचपी के प्रांतीय संगठन मंत्री थे। चंपत राय ने कहा कि ट्रस्ट में लोगों को शामिल कर उनके काम का सम्मान किया गया है। चंपत राय ने दावा किया है कि राम मंदिर का निर्माण वीएचपी के ही मॉडल पर होगा।
मीडिया से बात करते हुए राय ने कहा पीएम मोदी ने बहुत साहस का काम किया और आज केंद्र और प्रदेश सरकार दोनों ने निर्धारित समय सीमा के अंदर सर्वोच्च न्यायालय के आदेश का पालन करके दिखाया है। उन्होंने कहा कि अगर महंत नृत्य गोपाल दास और चंपत राय का नाम ट्रस्ट में शामिल किया जाता तो देश के अंदर तमाम निगेटिव फोर्सेज इसका विरोध करतीं और कहा जाता कि इन पर क्रिमिनल केस चल रहा है जिसके आधार पर अदालत इस पर स्टे दे।
उन्होंने बताया कि गुजरात के चंद्र भाई सोमपुरा ने राम मंदिर की ड्रॉइंग बनाई है। मंदिर का आर्किटेक्ट उनका रहेगा और निर्माण का काम बहुराष्ट्रीय कंपनी L&T कराएगी । उन्होंने कहा किसी नए मॉडल पर मंदिर बनने का विचार होगा, तब तो 25 साल से भी अधिक समय मंदिर बनाने में ही लग जाएगा। उन्होंने बताया आने वाले समय में राम मंदिर क्षेत्र में ऐसा दृश्य खड़ा होगा कि वहां आने वाले हर श्रद्धालु को भारतीय संस्कृति का ज्ञान हो। राम मंदिर के परिक्षेत्र में भगवान राम के जीवन की प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी।
चंपत राय ने कहा कि एक महीने के अंदर मंदिर परिसर का समतलीकरण शुरू हो जाएगा। ऐसे में कुछ दिन के लिए रामलला को गर्भगृह से किसी दूसरे स्थान पर शिफ्ट किया जाएगा। जिससे दर्शन पूजन का काम चलता रहे। सबसे पहले रामलला के गर्भगृह का निर्माण होगा। उन्होंने संभावना जताते हुए कहा 2 अप्रैल को रामनवमी के दिन मंदिर के निर्माण का काम शुरू हो जाएगा।

बेनकाब भ्रष्टाचार

Related Articles

Back to top button