उत्तर प्रदेशचित्रकूट

रेत माफियाओ को प्रशासन का रत्ती भर भी भय नही*

रेत माफियाओ को प्रशासन का रत्ती भर भी भय नही*

*रेत माफियाओ को प्रशासन का रत्ती भर भी भय नही*

{केन नदी के बछेड़ाघाट में बने अवैध जिस रिपटे को प्रशासन ने तोड़ा राजस्व और पुलिस की टीम वापिस होते ही फिर शुरू हो गया रेत का खनन निकाली तीन दर्जन गाड़िया}

लवकुशनगर/ रेत का अवैध उत्खनन कर गोयरा थाना क्षेत्र के केन नदी के बछेड़ाघाट में रेत निकासी के लिए रेत माफियाओ द्वारा बनाये गए अवैध रिपटे को सोमवार की शाम राजस्व और पुलिस की टीम ने पहुचकर तुड़वाया राजस्व और पुलिस टीम के वापिस होते ही एक बार फिर रेत माफियाओ ने दो घंटे में रिपटे को तैयार कर रेत का अवैध उत्खनन कर करीब तीन दर्जन से अधिक रेत भरे ट्रको में निकासी की इस घटना के बाद ग्रामीण हैरान रह गए ग्रामीणो ने बताया कि प्रशासन की कार्रवाई के दो घंटे भी नही बीते की रेत माफिया ने इस अवैध रिपटे को तैयार कर यूपी के नरैनी क्षेत्र से खाली ट्रक प्रवेश कराकर तीन एलएनटी मशीनो को उतारकर करीब तीन दर्जन ट्रको की निकासी कराकर ले गए इन रेत माफियाओ को जरा सा भी प्रशासनिक अधिकारियों का भय नही रहा गौरतलब है कि सोमवार को नायब तहसीलदार सरवई नारायण कोरी अमले मातहतों के साथ गोयरा पुलिस की मौजूदगी में केन नदी के इस रेत घाट पर पहुचकर बने रिपटे को तुड़वाया था

ग्रामीण बोले रेत माफियाओ को नही है प्रशासन का भय

ग्रामीणो ने रेत माफिया की कार्यशैली को देख दंग रह गए प्रशासन के जाते ही शुरू हुए इस रेत के खेल को देख अब ग्रामीणो में दहशत का माहौल बनने लगा है ग्रामीणो का कहना है की अब वह भी रेत खनन की खुलकर शिकायत नही करेंगे

प्रशासन ने कार्रवाई में निभाई औपचारिक
ग्रामीणो का आरोप है कि सोमवार को प्रशासन की यह कार्रवाई महज एक दिखावा साबित हुई रेत उत्खनन के लिए बने इस रिपटे को प्रशासन के इन नुमाइंदे जिस लाव लश्कर से पहुचे थे उस तरह काम नही किया रिपटे को हटाने को लेकर उसका पूरी तरह सफाया नही किया सिर्फ थोड़ी मात्रा में मलवा हटाकर वापिस चले गए यही वजह रही की रेत माफिया ने उसे दो घंटे में सही कराकर रात में ट्रको की निकासी की

इनका कहना है
राजस्व और पुलिस टीम की मौजूदगी में नदी पर बने रिपटे को तोड़ा गया था यदि रेत माफिया द्वारा दुबारा रिपटा बनाकर उत्खनन शुरू किया गया है तो उस पर फिर कार्रवाई की जाएगी
नारायण कोरी नायब तहसीलदार सरवई

रिपोर्ट
रहमत अली
चित्रकूट

बेनकाब भ्रष्टाचार

Related Articles

Back to top button