उत्तराखंडरुद्रपुररुद्रपुर

भारतीय सेना प्रणाम राष्ट्रीय दिवस की नई परंपरा को आगे बढ़ा

भारतीय सेना प्रणाम राष्ट्रीय दिवस की नई परंपरा को आगे बढ़ा

एक समाज श्रेष्ठ समाज संस्था अध्यक्ष योगेन्द्र कुमार साहू कोषाध्यक्ष बलराम हालदार के नेतृत्व में संस्था के माध्यम से पूज्यनीयवान भारतीय सेना के सम्मान में भारतीय सेना प्रणाम राष्ट्रीय दिवस की नई परंपरा को आगे बढ़ाते हुऐ आज चौथा भारतीय सेना प्रणाम राष्ट्रीय दिवस संस्था कार्यालय में मनाया गया
इस दौरान एक समाज श्रेष्ठ समाज संस्था अध्यक्ष योगेन्द्र कुमार साहू सदस्य रितिक साहू ने संयुक्त रूप से कहा कि हम पिछले चार वर्षों से प्रधानमंत्री राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार गृहमंत्री व रक्षामंत्री को कई बार ज्ञापन भेजकर भारतीय सेना के सम्मान में सात जनवरी को भारतीय सेना प्रणाम राष्ट्रीय दिवस मनाये जाने की माँग की है लेकिन भारत सरकार की तरफ से अभी तक इस विषय पर कोई संज्ञान नही लिया गया है हमने संस्था के माध्यम से सात जनवरी 2016 से भारतीय सेना के सम्मान में भारतीय सेना प्रणाम राष्ट्रीय दिवस की नई परम्परा को भारत मे शुरू कर दिया है हम अपने भारत देश में सुरक्षित इसलिए हैं क्योंकि हमारी भारतीय सेना ने अपनी सीमाओं को सुरक्षित कर रखा है भारतीय सेना ने हमारे कल को सुरक्षित रखने के लिए अपने आज को खतरे में डाल कर रखा है क्योंकि भारतीय सेना के जवान हजारों फुट की ऊंचाई पर अपनी हड्डियाँ गलाकर दुश्मन की हर हरकत पर पैनी निगाह रखते हुऐं दुश्मनों को मुंहतोड़ जवाब देकर दुश्मनों को संभलने का मौका भी नहीं देती है तब जाकर हम अपने अपने गांवों शहरों और घरों में सुरक्षित रहते हैं और आपदा राहत में भी भारतीय सेना का जवाब नहीं भारतीय सेना के इस रूप में उसकी प्रतिष्ठा पूरे विश्व में है क्योंकि जब सिविल प्रशासन किसी समस्या से मुकाबले न कर पाने की स्थिति में अपने हाथ खड़े कर देता है तब भारतीय सेना के जवानों के मोर्चा संभालते ही आपदा में फंसे लोगों में सैनिकों को देखकर आत्मविश्वास जागृति हो जाता है कि वो अब पूर्ण रूप से सुरक्षित हैं और भारतीय सेना की शौर्य गाथाऐं इतनी ज्यादा हैं कि उनके लिए शब्द कम पड़ जाते हैं क्योंकि चाहे मानव अधिकारों की रक्षा और देशों के बीच कानून के शासन को बढ़ावा देकर भारतीय सेना न केवल बाहरी खतरों से बल्कि आंतरिक खतरों से भी भारत देश की रक्षा करती है भारतीय सेना ने अपने त्याग तपस्या बलिदान अदम्य साहस पराक्रम का लोहा पूरे विश्व को मनवाया चुकी हैं पूज्यनीयवान भारतीय सेना के सम्मान में भारतीय सेना प्रणाम राष्ट्रीय दिवस हर साल सम्पूर्ण भारत में भारत सरकार के द्वारा मनाऐं जाने की भारत सरकार तत्काल घोषणा करें क्योंकि जब हमारे भारत देश में साल भर में बहुत सारे दिवस और फरवरी में बहुत सारे डे मनाये जाते है और यहाँ तक की एक अप्रैल को मूर्ख डे मनाया जाता है तो हम सभी भारतीयों का यह फर्ज है कि हमारी सुरक्षा के लिए भारतीय सेना के जवान अपनी जान की परवाह न करते हुऐं भारत व भारतवासियों को सुरक्षित रखते है तो हम सभी भारतीयों को भी अपनी भारतीय सेना के प्रति सच्ची निष्ठा आस्था रखते हुऐं सेना के सम्मान में भारतीय सेना प्रणाम राष्ट्रीय दिवस हर हाल में मनाना ही चाहिए जिससे हमारे देश भारत की अटूट स्वतंत्रता को बनाऐं रखने में सभी भारत वासियों के साथ साथ भारतीय सेना को और मजबूती मिलेगी
इस दौरान सेना प्रणाम दिवस मनाने में संस्था महिला अध्यक्ष नम्रता सिंह उपाध्यक्ष लोकेश कुमार साहू कोषाध्यक्ष बलराम हालदार गोविन्द मिस्त्री लक्ष्मी हालदार लक्ष्मी वार्ष्णेय कोमल गुप्ता पूनम सरकार ऋतिक साहू अनूप सिंह सूरज मिस्त्री प्रियांशु अभिषेक साहू आर्या रोहित मसीह प्रभाकर आर्या अमित देवनाथ सूरज कुम्हार मुकेश कुमार दीपक प्रजापति अशोक कुमार बाल्मीकि वाशु शर्मा विशाल कुमार सुशील राय आदि लोग उपस्थित है

रिपोर्ट सूरज कश्यप

बेनकाब भ्रष्टाचार

Related Articles

Check Also
Close
Back to top button