Breaking Newsगोण्डा

गोण्डा जनपद में जन जागरूकता अभियान के तहत होर्डिंग्स लगवा कर सड़क दुर्घटनाओं को रोकना की दिशा में की गयी पहल।

गोण्डा से बी एल कसौधन की रिपोर्ट

*गोण्डा जनपद में जन जागरूकता अभियान के तहत होर्डिंग्स लगवा कर सड़क दुर्घटनाओं को रोकना की दिशा में की गयी पहल*

गोण्डा जनपद के थाना धानेपुर एस.ओ.रतन कुमार पाण्डेय द्वारा जन जागरूकता अभियान के तहत होर्डिंग्स लगवा कर सड़क दुर्घटनाओं को रोकना की दिशा में की गयी पहल लोगों के बीच काफी सराहा जा रहा है।
बताते चलें की जनपद गोंडा मुख्यालय से बलरामपुर की सीमा से उतरौला बाजार की दूरी करीब 50 किलो मीटर है सड़क निर्माण के बाद इस मार्ग पर सड़क सुरक्षा नियमों के तहत सांकेतिक बोर्ड अथवा भीड़भाड़ वाले स्थानों को दुर्घटना बाहुल्य घोषित कर फर्राटा भरते वाहनों के रफ्तार पर नियंत्रण पाने के लिए स्पीड ब्रेकर बनवाने की मांग क्षेत्रीय लोगो के द्वारा प्रशासन से मांग की जा चुकी है मगर सम्बंधित विभाग की उदासीनता के चलते अब इस मार्ग पर सड़क सुरक्षा को ले कर कोई कदम नही उठाये गए हैं।
थानाध्यक्ष द्वारा चलाये इस अभियान की प्रशंसा हो रही है वहीं लोक निर्माण विभाग की उदासीनता पर सवाल भी खड़े हो रहे हैं।
जन जागरूकता अभियान के तहत सड़क दुर्घटना को बग्गी रोड बाजार से लेकर बाबागंज बाजार तक गये सडक मार्ग लगवाये पर रोकथाम के लिए सुरक्षात्मक होर्डिंग्स बैनर लगवा कर जन जागरुक सड़क दुर्घटनाओं को रोकने की अनोखी पहल की।
बढते सडक दुर्घटना, हादसो से अकारण जान गंवाने , अथवा चोटिल होकर लोग इलाज कराते हैं। तो कुछ पैदल अथवा दूसरे चालको की गलती का खामियांजा भुगत जाते है जिसके लिए, आपका जीवन अनमोल है, घर से सुरक्षित निकले हो सुरक्षित पहुचो, आपके परिजन मां बहन,पत्नी,बेटा,बेटी,आपका इन्तजार कर रहे हैं वाहन चलाते समय मोबाइल, ईयरफोन, का प्रयोग ना करे, तथा हेलमेट पहन कर वाहन चलाये,अपना तथा दूसरो का जीवन बचाये जैसे स्लोगन बोर्ड गोन्डा उतरौला मार्ग पर निर्देशित बोर्ड लगाये गये। बताते चलें कि, जनपद गोंडा मुख्यालय से बलरामपुर की सीमा से उतरौला बाज़ार की दूरी करीब 50 किलो मीटर है ।जिसपर अनेको सडक हादसे हो चुके है तमाम जाने जा चुकी है जिससे लोग इस सडक को दुर्घटना बाहुल्य सडक हादसो से परिपूर्ण मानते है। सड़क निर्माण के बाद इस मार्ग पर सड़क सुरक्षा नियमों के तहत सांकेतिक बोर्ड अथवा भीड़भाड़ वाले स्थानों को दुर्घटना बाहुल्य घोषित कर फर्राटा भरते वाहनों के रफ़्तार पर नियंत्रण पाने के लिए स्पीड ब्रेकर बनवाने की मांग क्षेत्रीय लोगो के द्वारा प्रशासन से मांग भी की जा चुकी हैl तमाम हादसो के बावजूद भी सम्बंधित विभाग की उदासीनता के चलते अब इस मार्ग पर सड़क सुरक्षा को ले कर कोई कदम नही उठाये गए हैं ।और तब थानाध्यक्ष द्वारा आज इस पावन पर यह सराहनीय कदम मानवता का प्रतीक उठाया। वहीं लोक निर्माण विभाग की उदासीनता पर सवाल भी खड़े हो रहे हैं । लोगों के अनुसार, थानाध्यक्ष द्वारा सुरक्षा की दृष्टि से उठाया गया यह कदम लोगों के लिए काफी लाभदायक साबित होगा और यदि लोगों द्वारा इस पर अमल भी किया गया तो दुर्घटना पर काफी नियंत्रण भी लगाया जा सकता है ।तथा सडक हादसे भी कम होगे बहरहाल देखना है जिस जन जगरूकता का बीडा श्री पान्डेय ने उठाया है उसके फलीभूत होने मे जन जागरुक की चेतना भी क्या होती है जागरूक

बेनकाब भ्रष्टाचार

Related Articles

Back to top button